प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना 2021: PM Swamitva Yojana Application Form

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के लाभ पात्रता ऑनलाइन पंजीकरण कैसे करें | PM Swamitva Yojana| Swamitva Yojana Application Form | प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना प्रॉपर्टी कार्ड

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के लाभ, पात्रता, ऑनलाइन पंजीकरण कैसे करें | PM Swamitva Yojana| Swamitva Yojana Application Form | प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना प्रॉपर्टी कार्ड

जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं प्रधानमंत्री जी देश को डिजिटलाइज करना चाहते हैं। अपने इसी सपने को साकार करने के लिए प्रधानमंत्री जी समय-समय पर देश को डिजिटलाइज करने के लिए कोई ना कोई योजना बनाते रहते हैं जिससे वह देश की उन्नति करना चाहते हैं। आज हम आपको प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के बारे में बताने जा रहे हैं। हम आपको इस इस योजना के लाभ, पात्रता और ऑनलाइन पंजीकरण के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी देंगे।

इस योजना के द्वारा एक पोर्टल की शुरुआत की गई है जिसका नाम ई ग्राम स्वराज पोर्टल रखा गया है। PM Swamitva Yojana के अंतर्गत इस पोर्टल पर आपको सभी समस्याओं से जुड़ी जानकारी प्राप्त होगी। प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के पोर्टल पर किस प्रकार रजिस्ट्रेशन किया जाता है और इसके लाभ क्या हैं आज हम आपको इसी आर्टिकल के द्वारा बताएंगे तो कृपया आप हमारे इस आर्टिकल को ध्यानपूर्वक पढ़ें।

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना प्रॉपर्टी कार्ड

PM Swamitva Yojana : प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के अंतर्गत किसान अपनी भूमि की जानकारी ऑनलाइन पोर्टल पर देख सकते हैं। जिसके लिए प्रधानमंत्री जी ने प्रॉपर्टी कार्ड वितरण करने की घोषणा की है। PM जी ने कहा है कि इस PM Swamitva Yojana Scheme के अंतर्गत देश के एक लाख प्रोपर्टी धारकों के मोबाइल पर एसएमएस द्वारा एक लिंक भेजा जाएगा। जिसकी सहायता से अपना प्रॉपर्टी कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं और फिजिकली प्रॉपर्टी कार्ड धारकों तक पहुंचाने के लिए राज्य सरकार उसमें सहायता करेगी।

PM Modi Yojana list 2021|मोदी सरकार योजना- पीएम मोदी योजना 2021

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के आने से गांव के लोगों को बैंक से लोन लेने में कोई भी कठिनाई नहीं होगी। प्रॉपर्टी कार्ड को बैंक में दिखाकर बहुत ही आसानी से बैंक से लोन प्राप्त किया जा सकता है। 11 अक्टूबर 2020 को PM नरेंद्र मोदी जी हरियाणा के 221, उत्तर प्रदेश के 346, महाराष्ट्र के 100, मध्य प्रदेश के 44, उत्तराखंड के 50 और कर्नाटक के दो गांवों के नागरिकों को आबादी की जमीन के मालिकाना देंगे और साथ ही साथ उसकी जमीन के कागज भी उन्हें सौंपे जाएंगे।

Swamitva Yojana Application Form : प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के अंतर्गत गांव की जमीन का रिकॉर्ड एकत्र करना शुरू कर दिया गया है PM Swamitva Yojana में जमीन का ब्यौरा और जानकारी रखी जाएगी। जिसकी सहायता से गांव के लोग अपने जमीन की जानकारी को ऑनलाइन देख सकेंगे। राजस्व विभाग द्वारा विवादित जमीनों के निपटारे के लिए ऑनलाइन अरेंजमेंट में भी किया गया किया गया है।

स्वामित्व योजना का कार्य 653 गांव में शुरू किया गया (सुल्तानपुर)

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के आने से से ग्रामीण आबादी की जमीनों का मलकाना ग्रामीण नागरिकों को सौंपा जाएगा। हालांकि PM Swamitva Yojana को शुरुआत में केवल 10 गांव में ही लागू किया गया था फिर उसके पश्चात धीरे-धीरे यह योजना 200 गांव में शुरू की गई और अब यह योजना कुल 653 गांव में शुरू करने का निर्देश जिलाधिकारी रवीश गुप्ता द्वारा दिया गया है। प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के अंतर्गत देश में हो रहे जमीन के विवादों को रोकने में सहायता मिलेगी।

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की नई सूची 2021 | PMAY-G स्टेटस

PM Swamitva Yojana योजना के अंतर्गत गांव की आबादी की जमीन का ड्रोन द्वारा सर्वे किया जाएगा और उसका मानचित्र भी लिया जाएगा और साथ ही साथ जमीन का निर्धारण किया जाएगा और उसकी आपत्तियां भी सुनी जाएंगी। PM Swamitva Yojana के आने से जमीनों के साथ जुड़े विवाद कम होंगे और साथ ही साथ इस योजना केस दौरान 653 गांव में कार्य शुरू किया कर दिया गया है और बाकी बचे गांवो में भी काम जल्द ही शुरू किया जाएगा।

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना की महत्वपूर्ण जानकारी

योजना का नामपीएम स्वामित्व योजना
विभागपंचायती राज मंत्रालय
घोषणापीएम मोदी द्वारा
आरंभ तिथि24 अप्रैल 2020
उद्देश्यलोन लेने में सुविधा
वेबसाइटhttps://egramswaraj.gov.in

PM Swamitva Yojana Property Card

जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं कि देश के पास आबादी की जमीन का रिकॉर्ड रखने के लिए कोई भी माध्यम नहीं था जिस कारण Pradhan Mantri जी ने Swamitva Yojana Scheme लांच की है। प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के माध्यम से 11 अक्टूबर 2020 को 763 गांव के 1.32 लाख लोगों को आबादी की जमीन के मालिकाना हक के कागज प्रदान किए जाएंगे। PM Swamitva Scheme के आने से देश में जमीन को लेकर हो रहे विवादों को रोकने में मदद मिलेगी।

11 अक्टूबर 2020 को मलिकाना हक के कागजों के साथ-साथ कागजों के साथ-साथ के कागजों के साथ-साथ कागजों के साथ-साथ ग्रामीण लोगों को प्रॉपर्टी कार्ड भी दिया जाएगा। जिससे कि उन्हें बैंक से लोन लेने में कोई भी कठिनाई का सामना ना करना पड़े। प्रॉपर्टी कार्ड जिलाधिकारी द्वारा वितरित किया जाएगा। जिससे देश का डिजिटल रूप से विकास होगा।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2021 update, pmfby 2020-21 registration form

PM Swamitva Yojana क्या है ?

स्वामित्व योजना के अंतर्गत देश में हो रही भूमि की लूटमार और नाजायज कब्जे को रोकने के लिए प्रधानमंत्री जी ने स्वामित्व योजना लॉन्च की है।

  • इस योजना से देश की जमीनों का ब्यौरा ऑनलाइन पोर्टल पर रखा जाएगा।
  • और लोग अपनी संपत्ति का ब्यौरा ऑनलाइन पोर्टल पर देख सकते हैं।
  • गांव की सभी जमीन का ड्रोन द्वारा मैपिंग किया जाएगा।
  • और सभी ग्राम निवासियों को जमीन से संबंधित ई- पोर्टल सर्टिफिकेट भी दिया जायेगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह ऐलान किया है कि आने वाले वर्षों में स्वामित्व योजना सन 2020 के आधार पर ही पंचायती राज दिवस मनाया जाएगा, जिसमें पुरस्कार भी दिया जाएगा और देश का डिजिटल रूप से विकास होगा।

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना का लक्ष्य

इस प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना का लक्ष्य है कि ग्रामीण किसानों को उनकी जमीनों की ऑनलाइन देख-रेख और मैपिंग द्वारा किसानों को उनकी की जमीन का उचित मालिकाना देना और देश को डिजिटलाइज करना है। ताकि जिससे देश में हो रही जमीन की लूटमार और छीना झपटी को कम किया जा सके। प्रधानमंत्री जी ने कोरोनावायरस के समय पर वीडियो कॉन्फ्रेंस द्वारा किसानों को संबोधित करते हुए यह घोषणा की है और इस योजना की शुरुआत की गई। 24 अप्रैल का दिन पंचायती राज दिवस के रूप में मनाया जाएगा।

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के लाभ

दोस्तों, प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के अंतर्गत प्रधानमंत्री जी ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के द्वारा यह घोषणा की थी और कहा था कि 5 साल पहले 100 ग्राम पंचायतों को ब्रॉडबैंड सेवाओं से जोड़ा गया था जबकि आज के समय में 125000 से अधिक ग्राम पंचायतें इस ब्रॉडबैंड सेवा का लाभ उठा रहे हैं। प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना की सहायता से हर प्रकार की जानकारी गांव के लोगों तक बहुत ही आसानी से पहुंच पाती है।

  • जिस कारण यह जानकारी गांव के लोग इस जानकारी को बहुत ही जल्द प्राप्त कर पाते हैं।
  • उन्हें जानकारी प्राप्त करने के लिए किसी दूसरी जगह जाना नहीं पड़ता।
  • गांव के लोग भी शहरों की तरह होम लोन ले सकते हैं।
  • इस योजना की शुरुआत लगभग 6 राज्यों में हो चुकी है।
  • और आने वाले समय मे सन 2024 तक देश के हर गांव में इस योजना को लागू करना ही सरकार का मुख्य लक्ष्य है।

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना प्रॉपर्टी कार्ड ऑनलाइन डाउनलोड करने की विधि

  • इस योजना के माध्यम से प्रधानमंत्री जी द्वारा एक बटन दबाया जाएगा।
  • इस को बटन दबाते ही देश भर में एक लाख प्रॉपर्टी धारको के मोबाइल पर एसएमएस भेजा जाएगा।
  • आप को SMS को ओपन करना होगा इसमें आपको एक लिंक मिलेगा।
  • इस लिंक पर क्लिक करने के बाद आप अपना प्रॉपर्टी कार्ड डाउनलोड कर पाएंगे।
  • इसके बाद फिजिकल प्रॉपर्टी कार्ड का वितरण राज्य सरकारो के द्वारा किया जाएगा।

PM Swamitva Yojana मैं ऑनलाइन आवेदन कैसे दें ?

  • आवेदन देने के लिए सबसे पहले आपको पीएम स्वामित्व योजना की ऑफिशल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज ओपन हो जाएगा।
  • होम पेज पर आपको न्यू रजिस्ट्रेशन के बटन पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपके सामने एक फॉर्म ओपन हो जाएगा।
  • फॉर्म में पूछी गई सारी जानकारी को ध्यानपूर्वक भरकर सबमिट बटन पर क्लिक कर दें।
  • आपको अपने रजिस्ट्रेशन की जानकारी आपके मोबाइल में s.m.s. द्वारा या ईमेल आईडी पर मेल द्वारा प्राप्त हो जाएगी।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2021 update, pmfby 2020-21 registration form

contact information

हमने आपको अपने इस आर्टिकल के द्वारा प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के बारे में सारी महत्वपूर्ण जानकारी दे दी है। अगर आपको फिर भी किसी भी कठिनाई का सामना करना पड़ता है तो आप हमें इस ईमेल [email protected] द्वारा संपर्क कर सकते हैं।

conclusion

इस प्रकार आप प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना का लाभ उठा सकते हैं पार्टिकल के माध्यम से हमने आप को बड़े ही सरल शब्दों में इस योजना के बारे में बताया है। योजना के अंतर्गत अब देश में जमीन की लूटमार में जमीन की लूटमार को बढ़ावा नहीं मिलेगा। उसको रोकने में काफी हद तक मदद मिलेगी और साथ ही साथ ही साथ गांव के किसानों के लिए भी लाभ होगा जिससे वह अपनी जमीन का ब्यौरा ऑनलाइन देख सकेंगे धन्यवाद।

Leave a Comment